EUR/USD: किसको क्या मिलेगा

EUR/USD: किसको क्या मिलेगा

सामान्य

EUR/USD का प्रदर्शन काफ़ी दिलचस्प होने लगा है। हाल ही में, कीमत ने 1.1000 के स्थानीय प्रतिरोध को तोड़ कर 1.1140 के निचले 3-महीने के प्रतिरोध के लिए रास्ता बनाया है। तकनीकी रूप से, वहां तक पहुंचना सिर्फ एक भरोसेमंद छलांग का मामला है, जो पूरे दिन अच्छी तरह से हो सकता है। लेकिन वहाँ रहने के लिए EUR और USD के बीच शक्ति के संतुलन में एक मध्यावधि मौलिक झुकाव की आवश्यकता होगी। क्या ऐसा हो सकता है? बिलकुल हो सकता है, पर साथ ही साथ USD के चढ़ने की भी उतनी ही सम्भावना है। इसलिए, यहां उन कारकों का विश्लेषण है जो एक या दूसरे का पक्ष लेते हैं ताकि आप अनुसरण कर के अपने लिए ये तय कर सकें कि ये रास्ता आपको कहाँ ले जाएगा।

EUR के पीछे

EUR के चढ़ाव के पीछे यह अग्रिम है कि यूरोपीय अधिकारी लॉकडाउन अवधि और वायरस की क्षति से तेज और सुचारू रूप से बहाली करने के लिए यूरोपीय अर्थव्यवस्था की सहायता के लिए आगे बढ़ रहे हैं। आपने यूरोपीय आयोग को वित्तीय सहायता प्रदान करने के बारे में सुना है, आपने सुना कि जर्मन चांसलर और फ्रांसीसी राष्ट्रपति यूरोज़ोन का समर्थन करने के लिए अभूतपूर्व प्रोत्साहन के बारे में चर्चा कर रहे हैं, आप यूरोपीय सेंट्रल बैंक के "क्वांटेटिव ईज़ के बारे में भी सुन रहे हैं - यह सब, घटते वायरस संक्रमण और बढ़ती आर्थिक और सामाजिक गतिविधि के साथ मिलकर EUR के लिए उम्मीद को वापस ले कर आ रहे हैं।

USD के पीछे

दूसरी तरफ, आपके पास "अमेरिकी" मोर्चा है। हाल ही में, इसके दो फ़ोकस पॉइंट हैं: हांग-कांग और ट्विटर। हांग-कांग अमेरिका-चीन संबंधों में एक बड़ी बाधा है जो वर्ष की शुरुआत में अपेक्षाकृत सकारात्मक सुर पर था। अब, इसके विपरीत, हम चीनी अधिकारियों को चेतावनी देते हुए सुनते हैं कि अमेरिका एक और शीत युद्ध को प्रज्वलित कर रहा है, जबकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जिस तरह से चीन हांगकांग के और हाल ही में उघर्स के लोकतांत्रिक अधिकारों को संभाल रहा है उससे नाखुश हैं कि। ज़ाहिर है, यूरोपीय संघ पक्ष लेने के लिए बाध्य है, और यह अमेरिका है क्योंकि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि पश्चिमी राज्यों में "लोकतंत्र और स्वतंत्रता" की "सच्ची" वैचारिक रेखा का सफलतापूर्वक अभ्यास किया जाता है। दूसरी ओर, ट्विटर का पसंदीदा मुद्दा राष्ट्रपति ट्रम्प है। हालांकि, मीडिया कवरेज की मात्रा में ये चीन-अमेरिकी संबंध को चुनौती देता है। इसका संबंध नवंबर 2020 के चुनावों के साथ है, जिसके लिए इंटरनेट टिप्पणियों के क्षेत्र में युद्ध शुरू हो चुका है इसलिए, हालांकि अमेरिका के लिए भू-राजनीतिक महत्व के मामले में हांग-कांग का मुद्दा काफी बेजोड़ है, पर डोनाल्ड ट्रम्प इस लड़ाई को हार भी नहीं सकते। दोनों स्थितियों से उत्पन्न समग्र तनाव अंतरराष्ट्रीय निवेशकों के विश्वास को ढकेल कर रन-फॉर-सेफ्टी मोड में डाल देतें हैं और वो USD की मांग करने लगते हैं।

संतुलन

अब तक, संतुलन EUR की ओर झुका हुआ है, लेकिन यह यूरोपीय मुद्रा द्वारा अनुभव की जा रही अस्थायी खुशी भी हो सकती है जो उसे यूरोप में आख़िरकार नाश को रद्द होते हुए देखकर मिल रही है। हालाँकि, दोनों ही मुद्राओं से दीर्घकालिक दृष्टिकोण अत्यधिक अस्पष्ट है। उदाहरण के लिए, ECB अध्यक्ष क्रिस्टीन लैगार्ड द्वारा की गई टिप्पणी के अनुसार ECB ने हाल ही में माना कि बहाली प्रक्रिया सबसे खराब स्थिति के करीब है। उस मान्यता का भावनात्मक प्रभाव स्पष्ट रूप से यूरोपीय प्रक्रियाओं को सर्वोत्तम संभव ढंग में स्थापित करने के लिए कई प्रक्रियाओं द्वारा पूरा किया गया था। हालांकि, दीर्घकालिक प्रभाव अभी भी खोजा जा रहा है क्योंकि निवेशकों को वास्तविकता पहचानने में देर नहीं लगेगी - वह चाहे जो भी हो। USD पर भी वही लागू होता है, पर, समाचार के अधिक जटिल सहसंबंध के साथ। आम तौर पर कहें तो, एक खराब अंतरराष्ट्रीय माहौल USD को जोख़िम की तरफ धकेलेगा। हालांकि, अगर अमेरिकी आर्थिक समृद्धि के मूल सिद्धांतों को कम आंका जाता है तो यूएस-चाइना ट्रेड वॉर 2.0 जैसे किसी भी गंभीर नकारात्मक परिदृश्य का दीर्घकालिक प्रभाव भी अमेरिकी डॉलर को अंततः नीचे ले आएगा।

तकनीकी दृष्टिकोण

EUR/USD के लिए दीर्घकालिक ट्रेंड मंदी है। यह "माना जाता है" कि USD के पीछे की बुनियादी बातें वैसे भी मजबूत हैं। जैसा उतार-चढ़ाव हम देखते हैं, जब यूरोज़ोन डी फैक्टो डिसफंक्शनल यूनियन के कगार पर होने और यूरोपीय एकता की हुई अचानक हड़ताल में बेहतर सुधार की उम्मीद के बीच बेहतर पक्ष पाने की कोशिश करता है, जो यूरो की आंतरिक कमजोरी की पुष्टि करता है। दूसरी ओर, USD को विश्व आरक्षित मुद्रा और दुनिया की सबसे मजबूत और सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था द्वारा समर्थित, दोनों विशेषाधिकार प्राप्त है। इसलिए, सवाल यह है: कि क्या एक बार फिर से सामान्य गति में पड़ कर इस प्रवृत्ति को तोड़ने के लिए EUR में दीर्घकालिक संभावनाएं हैं? हम जल्द ही पता लगा लेंगे। लेकिन फिलहाल, हम कह सकते हैं कि EUR/USD की "उड़ान का आनंद लें"; क्योंकि यह काफी जल्दी खत्म हो सकती है।

EURUSDDaily.png

                                                                                                  लॉग इन

समान

तेल: आगे का लंबा सुधार

सिटीग्रुप के विश्लेषकों के अनुसार, कच्चे तेल की कीमतें फिर कभी $100 प्रति बैरल तक नहीं पहुंचेंगी। उन्होंने दावा किया कि इस तरह के उच्च स्तर तक पहुंचने का विचार “वास्तविकता से कहीं अधिक कल्पना है”। ये वास्तव में एक गंभीर बयान है। कारण क्या हैं?

ताज़ा खबर

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

और सीखें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा 00:30:00 में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera