डिजिटल मनी में मुकाबला: कौन जीतेगा?

डिजिटल मनी में मुकाबला: कौन जीतेगा?

2022-04-29 • अपडेट किया गया

दूसरे विश्व युद्ध के बाद, दुनिया भर में ट्रेड युद्धों, महामंदी और अनिश्चितताओं के कारण देशों को बहुत सारी जटिलताओं का सामना करना पड़ा। जुलाई 1944 में हुए ब्रेटन वुड्स सम्मेलन के दौरान, कई प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं भविष्य के इंट्रा-कंट्री वित्तीय प्रवाह और मुद्रा और “प्रतिस्पर्धा” को USD के लिए तय की गई विनिमय दरों के माध्यम से विनियमित करना चाहती थीं। इसलिए, उन्होंने भुगतान असंतुलन को सही करने के लिए डिज़ाइन किया गया अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष बनाने का निर्णय लिया। पूरी प्रणाली USD के इर्द गिर्द आधारित थी जिसे सोने के लिए भुनाया जा सकता था। हालांकि, कुख्यात निक्सन शॉक ने USD और सोने के बीच निश्चित विनिमय दरों के युग को समाप्त कर दिया। प्रमुख समस्या यह थी कि संयुक्त राज्य अमेरिका के पास USD के अतिरिक्त भाग को कवर करने के लिए पर्याप्त सोना नहीं था परिणामस्वरूप, संयुक्त राज्य अमेरिका ने गंभीर अवस्फीति में कदम रखा। यह स्थिति US की अर्थव्यवस्था की स्थिरता के लिए पहला उत्प्रेरक थी। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद, दुनिया भर में ट्रेड युद्धों, ग्रेट डिप्रेशन और अनिश्चितताओं के कारण देशों को बहुत सारी जटिलताओं का सामना करना पड़ा।

यूरोपीय अर्थव्यवस्थाओं को XX सदी के दौरान फिएट मुद्राओं के साथ-साथ बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ा।  उदाहरण के लिए, द्वितीय विश्व युद्ध के बाद हंगरी के इतिहास में अति मुद्रास्फीति के सबसे खराब मामलों में से एक था क्योंकि इसकी अर्थव्यवस्था संकट और उच्च क्षतिपूर्ति से तबाह हो गई थी। परिणामस्वरूप, इसकी मुद्रास्फीति 1.3 × 10^16 प्रतिशत प्रति माह पर पहुंच गई (जिसका अर्थ है कि कीमतें हर 15 घंटे में दोगुनी हो जाती हैं)।

अपस्फीति, अति मुद्रास्फीति, और अन्य आर्थिक जोखिम फिएट मुद्राओं के भविष्य पर सवाल उठाते हैं। डिजिटल तकनीकों के नए युग के साथ, डिजिटल मनी वह है जिसके बारे में अभी हर कोई बात कर रहा है। वैश्विक अर्थव्यवस्थाएं पैसे के आदान-प्रदान के लिए एक पारदर्शी, सुरक्षित और तेज़ रास्ता बनाना चाह रही हैं। वित्त के नए डिजिटल रूप दुनिया भर में फैलते रहते हैं, जो सरकारों को चिंतित करती हैं और निवेशकों को एक आकर्षक अवसर प्रदान करते हैं। तो, लंबे समय तक हमारे साथ क्या रहने की संभावना है, और क्या जल्द ही धूल में बदल जाएगा?

डिजिटल मनी क्या है?

सबसे पहले, आइए जानें कि डिजिटल मनी क्या है। डिजिटल मुद्रा या इलेक्ट्रॉनिक मनी वो धन है जिसे डिजिटल सिस्टम या इंटरनेट पर प्रबंधित, संग्रहीत या आदान-प्रदान किया जाता है। तीन मुख्य प्रकार की डिजिटल मुद्राएँ हैं: क्रिप्टोकरेंसी, वर्चुअल मुद्रा और केंद्रीय बैंक डिजिटल मुद्रा। यह याद रखना सबसे अच्छा होगा कि सभी वर्चुअल मुद्राएं और क्रिप्टोकरेंसी डिजिटल मुद्राएं हैं, लेकिन सभी डिजिटल मुद्राएं इस श्रेणी से संबंधित नहीं हो सकती हैं।

क्रिप्टोकरेंसी नए पैसों के रूप में

क्रिप्टोकरेंसी एसेट लेनदेन के डिजिटल हस्ताक्षर को जोड़ने के लिए, पीयर-टू-पीयर नेटवर्किंग और विकेंद्रीकरण के लिए क्रिप्टोग्राफी क्रियाविधि पर निर्मित सबसे प्रसिद्ध डिजिटल मनी के प्रकारों में से एक है। ब्लॉकचेन सिस्टम में, मुद्रा बनाने और प्रबंधित करने के लिए प्रूफ-ऑफ-वर्क या प्रूफ-ऑफ-स्टेक योजनाओं का उपयोग किया जाता है। क्रिप्टोकरेंसी को एकजुट करने वाला मुख्य कारक विकेंद्रीकरण है।

सातोशी नाकामोतो द्वारा किए गए बिटकॉइन के आविष्कार ने वास्तव में पैसे की धारणा को बदल दिया है। इसके तीन प्रमुख पैरामीटर हैं।

  1. सबसे पहले, यह प्राइवेट है क्योंकि एक आधिकारिक राज्य प्राधिकरण इसे जारी नहीं करता है।
  2. यह विकेंद्रीकृत है। इकाइयाँ उपयोगकर्ताओं के विकेन्द्रीकृत समूह को जारी की जाती हैं।
  3. इसमें जालसाजी के विरुद्ध एक ठोस गारंटी है जो क्रिप्टोग्राफी और गेम थ्योरी के मिश्रण के माध्यम से संचालित की जाती है।

मुद्रा के अन्य रूपों की तरह, बिटकॉइन विनिमय के माध्यम और खाते की एक इकाई के रूप में कार्य करता है। जहां तक मूल्य के किफायत की बात है, जो एक और मनी फंक्शन है, कुछ हद तक संदिग्ध विषय है। एक तरफ तो, पिछले दशक के बड़े हिस्से के दौरान बिटकॉइन सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली वित्तीय संपत्तियों में से एक रहा है। वही दूसरी ओर, समय के साथ बिटकॉइन की कीमत में वृद्धि के साथ-साथ महत्वपूर्ण अस्थिरता और कीमत में गिरावट आई, जो कुछ वर्षों तक चली।

बिटकॉइन के अलावा, हजारों क्रिप्टोकरेंसी हैं जिनका कुल बाजार पूंजीकरण $2.56T से अधिक है। वे सभी समान मूल्यों को साझा करते हैं: वे एक केंद्रीय प्राधिकरण (बैंक) द्वारा विनियमित या समर्थित नहीं होते हैं, एक वितरित खाता बही का उपयोग करके बनाए जाते हैं, और विशेष कंप्यूटर कोड (क्रिप्टोग्राफी) के साथ एन्क्रिप्ट किए जाते हैं। 

भले ही क्रिप्टोकरेंसी के पास समान विशेषताएं हैं, लेकिन ये बिल्कुल समान नहीं होती हैं। सामान्य तौर पर, सभी प्रकार के क्रिप्टो को दो प्रमुख श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है: कॉइन जिनमें बिटकॉइन, एथेरियम, लिटकोइन और टोकन (ट्रॉन, वीचैन, लिंक) शामिल हैं। जबकि सिक्के ब्लॉकचेन की मूल संपत्ति के रूप में कार्य करते हैं, स्मार्ट अनुबंधों की मदद से मौजूदा ब्लॉकचेन पर टोकन बनाए जाते हैं।

केंद्रीय बैंक का डिजिटलीकरण हो रहा है

ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकियों की सफलता और क्रिप्टोकरेंसी का तेजी से विकास केंद्रीय बैंकों को हरकत में लाया। अब, सरकार क्रिप्टो बाजार को विनियमित करने की कोशिश कर रही है और डिजिटल मुद्राओं के विकास में भी भाग ले रही हैं।

केंद्रीय बैंक डिजिटल करेंसी केंद्रीय बैंकों के भविष्य का समाधान है पारदर्शी वित्तीय संचालन के लिए। शोध के अनुसार, दुनिया भर में कम से कम 80 प्रतिशत केंद्रीय बैंक धन का एक नया रूप बनाना चाहते हैं। इसके लिए साधारण तर्क है: यह मौद्रिक नीति निर्णयों को सरल बना सकता है, तृतीय-पक्ष जोखिमों को समाप्त कर सकता है और अवैध गतिविधियों को रोक सकता है। हालांकि, इस तरह नई खोज में कुछ खामियाँ भी है: यह केंद्रीकरण की समस्या का समाधान नहीं करता है। विडंबना यह है कि केंद्रीय बैंक डिजिटल मुद्राओं (CBDC) को क्रियान्वित करने वाला पहला केंद्रीय बैंक पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना था, जिसने कई प्रांतों में चीनी युआन का एक वर्चुअल संस्करण पेश किया। जबकि रेगुलटर ने घरेलू उद्देश्यों के लिए ऐसा किया था, इस मामले ने अन्य देशों, विशेषकर संयुक्त राज्य अमेरिका को चिंतित कर दिया। अमेरिकी अधिकारियों का मानना ​​था कि डिजिटल युआन वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए खतरा था जिसने US डॉलर की शक्ति को चुनौती दी और अमेरिकी प्रतिबंधों का लाभ उठाया। हालाँकि, अभी के लिए, चीनी युआन अभी भी अमेरिकी विदेश-नीति हितों को चुनौती देने से दूर है।

 अन्य केंद्रीय बैंकों के लिए, उदाहरण के लिए, बैंक ऑफ इंग्लैंड, या यूरोपीय सेंट्रल बैंक, उनके CBDC का विकास एक वास्तविकता के बजाय एक परियोजना की तरह दिखता है। लेकिन, निश्चित रूप से, अगर वे अंततः डिजिटल मुद्राओं के व्यापक उपयोग को लागू करते हैं, तो यह वैश्विक वित्त को बदल देगा।  

डिजिटल मुद्रा की दुनिया में चुनौतियां

जैसा कि आप उपरोक्त अनुच्छेद में देख सकते हैं, विभिन्न देशों में वित्तीय प्रणालियां एक नए युग में प्रवेश कर रही हैं, जहां मुद्रा विनिमय में पूर्व भूमिका मुद्रा के डिजिटल रूपों की है। एक ओर, हमारे पास केंद्रीय बैंकों द्वारा जारी धन है। वे केंद्रीकृत हैं; वे डेटाबेस में जानकारी संग्रहीत करते हैं, जिसे सरकारें विनियमित कर सकती हैं। लेकिन, दूसरी ओर, उनके सिस्टम में विभिन्न क्रिप्टोकरेंसी वाले विकेंद्रीकृत नेटवर्क हैं। वे तेज़ हैं, क्रिप्टोग्राफ़िक क्रियाविधि द्वारा विनियमन से सुरक्षित हैं, और उनके पास एक अद्वितीय निजी कुंजी है जो आपको इस मुद्रा का मालिक बनाती है।

यह देखते हुए कि सरकारें केवल क्रिप्टोकरेंसी को स्वीकार करने के तरीके पर काम कर रही हैं, तेजी से बदलते परिवेश और कानूनों की खामियां क्रिप्टो को गंभीर निवेश के बजाय नियमित लोगों के लिए "मजेदार और खेल" जैसा बनाती हैं। हालाँकि, सब कुछ बदलने के लिए तैयार है। जितने अधिक लोग और व्यापार क्रिप्टोकरेंसी को मूल्य के भंडार और विनिमय के माध्यम के रूप में स्वीकार करते हैं, उतनी ही तेजी से दुनिया उनके अनुकूल होगी। इस परिवर्तन के अच्छे उदाहरणों में, हम Paypal का उल्लेख कर सकते हैं, जो इसे अपने वॉलेट में क्रिप्टो को स्टोर और संचालित करने की अनुमति देता है।

आप उन लोगों में शामिल हो सकते हैं जो पहले से ही FBS के साथ फ्यूचर की सराहना कर सकते हैं, जैसा कि आप क्रिप्टोकरेंसी का ट्रेड कर सकते हैं और उन्हें अपने निजी क्षेत्र में निकाल और जमा कर सकते हैं।

समान

क्रिप्टोकरेंसी पेयर ट्रेडिंग: परिभाषा, स्पष्टीकरण और उदाहरण
क्रिप्टोकरेंसी पेयर ट्रेडिंग: परिभाषा, स्पष्टीकरण और उदाहरण

क्रिप्टोकरेंसी हमारे चारों ओर है अधिक से अधिक कंपनियों ने क्रिप्टो को भुगतान के माध्यम के रूप में स्वीकार करना शुरू कर दिया है ( Tesla ने स्प्रिंग 2021 में बिटकॉइन और जनवरी 2022 में डॉगकोइन के साथ ऐसा किया)।

बाजार सहसंबंध: युक्तियाँ और अंतर्दृष्टि
बाजार सहसंबंध: युक्तियाँ और अंतर्दृष्टि

सहसंबंध आपको बाजार की गतिविधियों का अनुमान लगाने में मदद कर सकता है। सहसंबंध एक सांख्यिकीय गणना है जो यह निर्धारित करता है कि संपत्ति एक दूसरे के संबंध में कैसे चलती है।

क्रिप्टो में फोरेक्स और कोमोडिटीज़? स्टेबलकोइन्स का वर्णन
क्रिप्टो में फोरेक्स और कोमोडिटीज़? स्टेबलकोइन्स का वर्णन

स्टेबलकोइन्स क्रिप्टोकरेंसियों का एक नया वर्ग है जो दाम में स्थिरता लाने की कोशिश करता है और एक रिजर्व एसेट द्वारा समर्थित होता है।

बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  • FBS अकाउंट कैसे खोलें?

    हमारी वेबसाइट पर 'अकाउंट खोलें’ बटन पर क्लिक करें और पर्सनल एरिया पर जाएं। इससे पहले कि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें, एक प्रोफाइल सत्यापन पास करें। अपने ईमेल और फोन नंबर की पुष्टि करें और अपनी आईडी सत्यापित करें। यह प्रक्रिया आपके धन और पहचान की सुरक्षा की गारंटी देती है। एक बार जब आप सभी जांच कर लेते हैं, तो पसंदीदा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं, और ट्रेडिंग शुरू करें। 

  • FBS के साथ कमाए हुए धन को कैसे निकालें?

    ये प्रक्रिया बहुत ही सरल है। वेबसाइट या FBS पर्सनल एरिया के वित्त अनुभाग में Withdrawal पेज पर जाएं  और रकम निकासी की प्रक्रिया को एक्सेस करें। आप कमाया हुआ धन उसी भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जिसे आपने जमा करने के लिए उपयोग किया था। यदि आपने विभिन्न तरीकों से अकाउंट को वित्त पोषित किया है, तो जमा रकम के अनुसार अनुपात में समान विधियों के माध्यम से अपना लाभ वापस लें।

  • ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

    यदि आप 18 वर्ष से ऊपर के हैं, तो आप FBS में शामिल हो कर अपनी FX यात्रा शुरू कर सकते हैं। ट्रेड करने के लिए, आपके पास एक ब्रोकरेज अकाउंट और वित्तीय बाज़ारों में एसेट्स कैसे व्यवहार करते है, इसकी पर्याप्त जानकारी होने की आवश्यकता है। हमारी नि: शुल्क शैक्षिक सामग्री और FBS खाता बनाने के साथ मूल बातें का अध्ययन करना शुरू करें। आप डेमो अकाउंट से आभासी पैसे के साथ परिस्थिति का परीक्षण करना चाह सकते हैं। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो सफल होने के लिए वास्तविक बाज़ार में प्रवेश करें और ट्रेड करें।  

  • लेवल अप बोनस को कैसे सक्रिय करें?

    FBS पर्सनल एरिया के वेब या मोबाइल संस्कारण में जाकर लेवल अप बोनस खाता खोलें और अपने खाते में मुफ्त 140$ पाएँ।

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

अपने खेल में शीर्ष पर रहें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera