तकनीकी उपकरण के रूप में चल औसत क्रॉसओवर

तकनीकी उपकरण के रूप में चल औसत क्रॉसओवर

2020-03-31 • अपडेट किया गया

तकनीकी विश्लेषण की नींव

तकनीकी विश्लेषण में उपकरणों की एक बड़ी भीड़ है । लेकिन यह तकनीकी रूप से वे कैसे बनाये जाते हैं उनके विभिन्न तरीकों या प्रक्रियाओं की विभिन्न प्रकृति जिनका वे प्रतिनिधित्व करते हैं के कारण नहीं है । बल्कि, यह कई छोटी विशिष्ट विशेषताओं के कारण है जो समान गणितीय विधेयकों में जोड़े गए थे । आखिरकार, उन्होंने विभिन्न उपकरणों का उत्पादन किया जिनके अलग-अलग नाम हो सकते हैं लेकिन अन्तर्भाग में उनकी एक जैसी या समान कार्य पद्धति है ।

नीचे दिया गया चार्ट तकनीकी विश्लेषण को तीन समूहों में तोड़ता है, जिनमें से हमें जो चाहिए वह "संकेतक" हैं । आम तौर पर, ट्रेडर्स को संकेतकों के बारे में बहुत जुनून होता है, फिर चाहे यह केवल एक विशिष्ट संकेतक हो या कई सारे । यह एक मनोवैज्ञानिक कारण की वजह से है: एक बमुश्किल समझे गए बाज़ार के प्रदर्शन की एक प्रशंसनीय व्याख्या की पेशकश करते हुए, एक संकेतक ट्रेडर्स को विश्वास दिलाता है कि यह भविष्यवाणी भी कर सकता है कि बाज़ार कहां जाएगा । हालांकि यह काफी हद तक सही है, समस्या यह है कि असलियत में किसी को पता नहीं चल सकता है कि वास्तव में कोई संकेतक सही होगा या गलत । एक गलत संकेत हर संकेतक का एक मौलिक दुश्मन है, और यह कोई अपवाद नहीं जानता है ।

11.png

पवित्र क्रॉसिंग

इस दौरान, सबसे शानदार तकनीकी उपकरणों में से एक MA क्रॉसओवर है । चूंकि यह दीर्घकालिक अवलोकन के लिए ज़्यादा उपयुक्त है, इसलिए यह अक्सर ऐसा नहीं होता है । लेकिन अगर ऐसा होता है, तो यह आने वाली भयावह घटनाओं को लाने वाला बन सकता है । 1929, 1938, 1974 और 2008 में अमेरिकी शेयर बाज़ार में आई आपदाओं का इस डेथ क्रॉस के द्वारा प्रभावी रूप से पूर्वाभास हो सकता है । इसलिए, कोई भी व्यक्ति जिसके पास उस समय इस तरह के साधन होते तो इस संकेत के मद्देनजर ट्रेडों को खोलने से वह छह-अंकीय रकम कमाने में सक्षम होता । हो सकता है कि किसी ने वास्तव में किया हो, हम नहीं जानते । तो वास्तव में यह "डेथ क्रॉस" क्या है? और यह कैसे काम करता है?

अंदरूनी कामकाज

दो प्रकार के हैं: बेयरिश या मंदी "डेथ क्रॉस" और बुलिश या तेज़ी "गोल्डन क्रॉस" । दोनों की एक ही रचना है: एक अल्पकालिक और एक दीर्घकालिक चल औसत । जब अल्पकालिक MA लंबी अवधि को उल्टा क्रॉस करता है, तो यह एक मंदी का संकेत है; जब अल्पावधि लंबी अवधि को नीचे से ऊपर क्रॉस करता है, तो यह तेज़ी का संकेत है ।

आम तौर पर, एक अल्पकालिक चल औसत 50-MA के रूप में लिया जाता है, और दीर्घकालिक 200-MA होता है । लेकिन यह हर रणनीति में अलग हो सकता है । ऐसे लोग हैं जो 350-MA के विपरीत 16- या 26-MA लेते हैं । 

यहाँ लॉजिक यह है । एक अल्पकालिक चल औसत वास्तविक मूल्य की गतिविधि के पास है । यह सिर्फ़ मूल्य प्रदर्शन की प्रस्तुति से बाज़ार के शोर को हटाता है । इसलिए अप और डाउन स्विंग्स के एक अराजक अनुक्रम के बजाय, आपको अल्पकालिक चल औसत का एक सुचारु वक्र दिखता है । लंबी अवधि की चल औसत मूल्य वृद्धि का प्रतिनिधित्व नहीं करती है; बल्कि, यह उन स्तरों में एक रणनीतिक बदलाव दिखाता है जिन पर महीनों और वर्षों से कीमत स्थिर बनी हुई थी ।

इसलिए, दीर्घकालिक MA के खिलाफ एक अल्पकालिक MA सेट वास्तविक और हालिया मूल्य गतिविधि है जिसे रणनीतिक तस्वीर के खिलाफ मापा जाता है । इसका तर्क यह है कि यदि हालिया मूल्य गतिविधि ऐतिहासिक दृष्टि से बहुत दूर चली जाती है, तो इसका मतलब है कि बाज़ार में ज़रूर कुछ गंभीर हो रहा है और एक बड़े बदलाव की संभावना है । यदि अल्पकालिक तस्वीर दीर्घकालिक से काफी बेहतर होती है - मतलब यह कि, अगर अल्पकालिक MA लंबी अवधि को नीचे से ऊपर पार करता है - तो बाज़ार में काफी तेज़ी की संभावनाएं होनी चाहिएँ, जो कि बेमियादी होने का इंतेज़ार कर रही हैं । अन्यथा, अगर ऐतिहासिक गतिकी वर्तमान समय की तुलना में ऊँची होती है - उदाहरण के लिए, 50-MA 200 MA से ऊपर-नीचे पार करती है - तो माना जाता है कि बेयर्स युद्ध की तैयारी कर रहे हैं ।

अकेले लिया जाए तो, तर्क बहुत सीधा है, और इस्तेमाल किए जाने के दृष्टिकोण से, इस्तेमाल में आसान । आप चार्ट पर केवल MA प्लॉट करते हैं, उन्हें क्रॉस करते हुए देखते हैं, और उसी के अनुसार काम करते हैं । लेकिन सामान्य रूप से यह विधि कितनी भरोसेमंद है? क्या संभावना है?

बड़ा मौक़ा

नीचे दी गई टेबल में, हमने विभिन्न क्षेत्रों की 10 सार्वजनिक कंपनियों को लिया । 2018 और 2019 के लिए दैनिक चार्ट का अवलोकन करते हुए, हमने 50-से-200-MA क्रॉसिंग की कुल संख्या गिनी । उसके बाद, हमने मध्यावधि में इन क्रॉसिंग द्वारा किए गए "सही पूर्वानुमान" की संख्या गिनी । इसका मतलब है कि, हमने सिर्फ़ यह देखा कि क्या मध्यावधि में वास्तव में "गोल्डन क्रॉस" के बाद कीमत बढ़ी और "डेथ क्रॉस" के बाद गिरी ।

111.png

जैसा कि आप देख सकते हैं, 2018-2019 के दौरान 10 कंपनियों में से 30 कुल 50-से-200 MA क्रॉसिंग में से केवल 11 लाभदायक थे । दूसरे शब्दों में, अकेले इस पद्धति पर भरोसा करते हुए, एक ट्रेडर को जीतने का लगभग 33% मौका होगा जो ज़्यादा अच्छा नहीं है । वास्तव में, तकनीकी रूप से, इसका मतलब है कि एक ट्रेडर इस उपकरण पर भरोसा करके पैसे खो देगा । तो फिर इसकी समस्या क्या है?

समय 

समस्या यह है कि चल औसत क्रॉसिंग विधि चल औसत के प्रदर्शन पर आधारित है । और चल औसत एक धीमा संकेतक है । इसका मतलब है, एक बार जब कीमत में गतिविधि होती है, तो चल औसत उस पर बाद में ही प्रतिक्रिया करेगी; इसकी अवधि जितनी छोटी होगी, उतनी ही जल्दी यह प्रतिक्रिया देगा । तो सख्ती से बोलते हुए, चल औसत का एक भी कदम उस कदम का प्रतिबिंब है जो कीमत ने कुछ समय पहले लिया था । "कुछ समय पहले", बहुत महत्वपूर्ण है ।

पहले तो, उस क्षण को पकड़ने में समय लगता है जहां 50-MA और 200-MA क्रॉस होते हैं । लेकिन एक उचित ट्रेडर होते हुए, आप उस पल हरकत में नहीं आते हैं जब आप उन्हें क्रॉस होते हुए देखते हैं । आप उनके वे जहां है वहीं रुकने का इंतेज़ार करते हैं और समय-समय पर निस्तारण की पुष्टि करते हैं । दूसरा, किसी भी ट्रेड को खोलने में समय लगता है: स्टॉप-लॉस, टेक-प्रॉफिट, और खरीने/बेचने के लेवल को रखने में । और तीसरा, पोज़िशन को बंद करने में समय लगता है, और यदि आप 50-MA और 200-MA का उपयोग करने के सामान्य अभ्यास का पालन करते हैं, तो आप दैनिक चार्ट के लिए जाएंगे - इसका मतलब है कि, आपकी पोज़िशन कुछ दिनों बाद बंद होगी । इसलिए, चल औसतों के क्रॉस करने के समय से लेकर आपके ट्रेड बंद करने तक, इसमें काफ़ी समय लग सकता है । और इस दौरान, 50- और 200- MA पार करने के लिए बाज़ार को चलने वाली ताकतें पहले से ही खुद को समाप्त कर सकती हैं और वापस लौट सकती हैं । इसका मतलब है कि वह क्षण जब आपका ऑर्डर बंद हो जाता है, उस समय हो सकता है जब बाज़ार को विपरीत दिशा में चलते हुए काफ़ी समय हो चुका हो ।

इसलिए, यह समय की समस्या है । और इसका एक आंशिक समाधान है जो है: आप प्रभावी तौर से "डेथ/गोल्डन क्रॉस" विधि का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन मज़बूत उतार-चढ़ाव के समय में नहीं और अस्थिर ट्रेड उपकरणों के साथ नहीं । 

यह काफी लॉजिकल है: आपको उन स्टॉक्स या मुद्रा जोड़ों को चुनना होगा, जो अक्सर अपना मूड नहीं बदलते हैं, और यदि वे करते हैं, तो वे इसे "हमेशा के लिए" करते हैं । अगर ऐसा है, तो आपके पास एक अच्छा मौका होगा कि जब आप MA क्रॉसिंग का निरीक्षण करें, अपना ट्रेड सेट करें और अंत में अपनी पोज़िशन को बंद कर दें, तब भी बाज़ार वहीं होगा जहां आपने पहली बार "डेथ/गोल्डन क्रॉस" पर ध्यान दिया था । 

इसके अलावा, एक अतिरिक्त उपाय अपनी पोज़िशन को खुला रखने के समय को कम करना है । ऐसा करने से, आप अपने स्टॉप लॉस हिट को देखने के जोखिम को कम कर देंगे क्योंकि बाज़ार ने पहले ही दिशा बदल दी थी । इसका मतलब है कि आप अपने आप को अधिकतम लाभ निकालने के साथ विनम्र करते हैं: हम सभी अपने लाभ को बढ़ाने के लिए अपनी पोज़िशन को बढ़ाते हैं, लेकिन कई बार, हम ऐसे लालच के लिए दंडित होते हैं । इसलिए, संयम को पुरस्कृत किया जाता है ।

उदाहरण 

नीचे दिया गया दैनिक चार्ट 2018 के अंत - 2019 की शुरुआत में HP स्टॉक के मूल्य प्रदर्शन को दर्शाता है । 

पॉइंट A स्पष्ट "डेथ क्रॉस" दिखाता है । लेकिन यह केवल बाद में ही स्पष्ट होता है क्योंकि हम इसे भविष्य में एक बहुत दूर के समय से देख रहे हैं जिसमें पूरी तस्वीर है । अगर आप क्रॉसिंग के उस सटीक क्षण में हैं, तो आप केवल 50-MA को 200-MA के साथ एक कोण बनाते हुए देखते हैं, और वह अकेले किसी भी कार्यवाही की गारंटी नहीं देता ।

असल ज़िंदगी में, जब तक आप एक बहुत ज़्यादा जोखिम लेने वाले व्यक्ति नहीं हैं, तब तक आप केवल पॉइंट A पर कार्य नहीं करते हैं, लेकिन यह सत्यापित करने के लिए कि ट्रेंड वास्तव में नीचे जा रहा है के नहीं थोड़ी देर बाद इस चार्ट पर वापस आने के लिए अपने लिए एक रिमाइंडर लगाते हैं ।

ठीक यहीं पर पॉइंट B आता है । आप चार्ट देखते हैं, मूल्य को $19.20 तक गिरते हुए और फिर $21.50 तक चढ़ते हुए देखते हैं । इसके अलावा, आप 50-MA और 200-MA के उनके द्वारा बनाए गए "डेथ क्रॉस" के बाद उनके बीच बढ़ते हुए अंतर को देखते हैं । इसके अनुसार, आप सोचते हैं: "ठीक है, हमारे पास डेथ क्रॉस है, रणनीतिक प्रवृत्ति नीचे है, और ऊपर की ओर एक स्थानीय सुधार है; मैं यहां बेचता हूं क्योंकि यह सुधार जल्द ही समाप्त हो जाएगा, और मैं इस प्रवृत्ति को और नीचे जाता देखूंगा - वहां मैं देखूंगा” । तो आप 10 जनवरी को बेचते हैं और 28 फरवरी तक आपको स्थिर चढ़ाव के अलावा कुछ नहीं दिखता । पॉइंट C: आप अपने फंड खो देते हैं, उस पल को शाप देते हैं जब आपने "डेथ क्रॉस" देखा था और फिर कभी इस पद्धति का उपयोग ना करने का निर्णय लेते हैं ।

बाद में, आप केवल संयोग से HP के दैनिक चार्ट को खोलते हैं - और यह केवल यह पता लगाने के लिए है कि मूल्य अंततः $19.20 के क्षेत्र में और उससे भी नीचे चला गया । यह वह जगह है जहाँ पोज़िशन को बंद करना चाहिए था । लेकिन आपको वहां पहुंचने में महीनों लगेंगे ।

यह उदाहरण काफी विवादास्पद है । एक ओर, "डेथ क्रॉस" ने एक सही भविष्यवाणी पेश की - कीमत अंततः ढह गई । लेकिन उस ट्रेडर के लिए यह सही परिदृश्य (जो सभी मामलों का सिर्फ 33% है) कितना व्यावहारिक था, जो स्वैप का भुगतान करके महीनों तक पोज़िशन्स को खुला रखने के लिए तैयार नहीं है?

12.png

पहले ही जान लेना

यह हमारे सामने इस पद्धति की एक और मौलिक समस्या को लाता है । चल औसत एक संकेतक है जो दर्शाता है कि पहले क्या हो चुका है । अकेले उपयोग किए जाने पर, यह किसी भी तरह से यह अनुमान नहीं लगा सकता कि अगले क्षण क्या होने वाला है ।

देखे गए परिदृश्य में, तकनीकी रूप से, पॉइंट A में "डेथ क्रॉस" 24 डॉलर प्रति शेयर से ऊपर की कीमत से $21.50 के क्षेत्र और उससे भी नीचे की ओर पहले के पतन के परिणामस्वरूप दिखाई देता है - यही वह गिरावट है जिसने वास्तव में 50-MA को झुककर 200-MA को क्रॉस करने के लिए मजबूर किया था ।

यह सोचना कि "ठीक है, मुझे डेथ क्रॉस दिख रहा है - इसका मतलब है कि कीमत में और गिरावट आएगी" यह एक भ्रम है । एक सही विचार यह होना चाहिए कि "ठीक है, मुझे डेथ क्रॉस दिख रहा है; इसका मतलब यह होना चाहिए कि बाज़ार में मज़बूत मंदी की ताकतें हैं जो कीमत को और नीचे ले जाने पर मजबूर कर सकती हैं" । पहले वाला कृत्रिम रूप से एक दृश्यमान दृश्य घटना ("डेथ क्रॉस") को वांछित परिणाम (मूल्य में गिरावट जारी) से जोड़ता है । बाद वाला बाज़ार के कुछ आंतरिक कामकाज ("मंदी की ताक़तों") के संकेत के रूप में देखी गई दृश्य घटना ("डेथ क्रॉस") की व्याख्या करता है और एक अनुमान (केवल!) बनाता है कि वे आंतरिक कामकाज निकटतम भविष्य में अपना प्रभाव बढ़ा सकते हैं ।

यह एक "लाइट-मोड" ट्रेडिंग और मुनाफा बनाने के लिए एक सीखे हुए तरीके के बीच अंतर का एक उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत करता है । कहने की ज़रूरत नहीं है, अगर आप इसे हल्के में लेते हैं, तो आपका मुनाफ़ा भी हल्का होगा । 

अगर आप अच्छा लाभ चाहते हैं - तो संकेतकों और बाज़ार व्याख्याओं के बारे में गंभीर रहें । 

इसमें ज्यादा कुछ नहीं है, लेकिन आपको क्या, क्यों और कब करना है, इसकी आवश्यकता है । नीचे दिया गया उदाहरण एक अच्छी कल्पना है ।

13.png

HP के साथ ही, दैनिक चार्ट को देखते हुए, समय के पॉइंट B क्षण में होने पर, आप पॉइंट A में "गोल्डन क्रॉस" को नोटिस करेंगे और खरीदने के लिए सही होंगे । यदि आप उस समय $21.50 पर लॉन्ग ओपन करते हैं, तो आपको मूल्य वृद्धि सीधे $23.50 - लगभग 10% दिखाई देगी । यह लगभग एक महीने के इंतजार के लिए बुरा नहीं है, यह ध्यान में रखते हुए कि उसी $21.50 के नीचे मुश्किल से नीचे की ओर केवल मामूली सुधार हुआ । लेकिन यहाँ विकल्प आता है: अगर $23.50 पर आपने कहा "ठीक है, या मेरे लिए पर्याप्त इंतेज़ार और पर्याप्त लाभ है" और अपनी पोज़िशन को बंद कर दिया, तो आप इस गेम को जीत लेंगे । अगर आपने सोचा कि "नहीं, मैंने इसका बहुत इंतेज़ार किया है और मैं बहुत ज़्यादा लाभ पाने का हकदार हूं", तो आप देखेंगे कि कीमत घटकर $14.41 हो जाएगी जहां अब यह सब कुछ खो रहा है ।  

महत्वपूर्ण सबक

आपका यह ध्यान रखना सही होगा कि वास्तव में ऊपर दिए गए उदाहरणों में से कोई भी साफ़ तौर से कोई सफल मामला प्रस्तुत नहीं करता है । हर एक में, समय निर्धारित करता है कि क्या आपका ट्रेड आपके पैसे के लिए लाभकारी होगा या विनाशकारी । यह अच्छी तरह से चीज़ों की प्रकृति को दर्शाता है - अकेले लिया गया, MA क्रॉसओवर निर्णय लेने के लिए एक आधार बनने के लिए पर्याप्त नहीं है । अगर आप एक स्पष्ट "डेथ क्रॉस" या "गोल्डन क्रॉस" देखते हैं, तो ट्रेड खोलने में जल्दबाज़ी ना करें । अन्य टाइमफ्रेम, अन्य संकेतक (ख़ास तौर से दोलन या ऑसिलेटर क्योंकि वे प्रवृत्ति संकेतक के पूरक हैं) की जाँच करें, विचार किए गए ऐसेट्स को बुनियादी बातों और समाचार के साथ सत्यापित करें । इसके अलावा, सामान्य ज्ञान का पालन भी करें ।

अंत में, यह सिर्फ एक दूसरे को पार करने वाली दो लाइनें हैं । क्या यह एक सुसंगत ट्रेडिंग रणनीति की एक बड़ी प्रणाली का एक सार्थक तत्व होगा - यह आप पर निर्भर करता है । 

समान

मुद्राएँ, सोना या सूचकांक… पहल किस्में ट्रेड करना चाहिए?

यह लेख आपको यह पता लगाने में मदद करेगा कि कौन सा ट्रेडिंग साधन आपके लिए सबसे अच्छा है! शामिल हो जाओ!

एक मास्टर ट्रेडर के लिए टॉप 3 पैटर्न

अनुभव के साथ हर व्यापारी को समर्थन और प्रतिरोध स्तर, रुझान और सुधार और विभिन्न तकनीकी संकेतकों के बारे में ज्ञान प्राप्त होता है। सक्रिय ट्रेडिंग के हर महीने के साथ, कैंडलस्टिक और चार्ट पैटर्न को पहचान लेना आसान हो जाता है। फिर भी, आपको आगे बढ़ते रहने के लिए कुछ और जटिल चीजों में महारत हासिल करने की आवश्यकता है। चलिए इस बारें में और जाने।   

टॉप 3 रणनीतियां जो एक नौसिखिया भी मास्टर कर सकती हैं

ये रणनीति आपको यह समझने में मदद करेगी कि ट्रेडिंग कैसे काम करती है और आपको एक कार्य योजना प्रदान करती है।

बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  • ट्रेड 100 बोनस कैसे प्राप्त करें?

    FBS से नि: शुल्क $100 के साथ अपने ट्रेडिंग कौशल को बढ़ावा दें। इस विकल्प को सक्रिय करने के लिए, इसमें $100 के साथ एक ट्रेड 100 बोनस अकाउंट खोलें। सक्रिय ट्रेडिंग के 30 दिनों के दौरान पैसों का उपयोग करें और पांच लॉट्स का व्यापार करें। यदि आप सफल होते हैं, तो आप $ 100 का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। ये एक फायदे का सौदा है! ना केवल आपको लाभ कमाने का मौका मिलता है, बल्कि आप वास्तविक बाज़ारों का भी परीक्षण कर के अपने FX कौशल को प्रशिक्षित कर सकते हैं। 

  • ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

    यदि आप 18 वर्ष से ऊपर के हैं, तो आप FBS में शामिल हो कर अपनी FX यात्रा शुरू कर सकते हैं। ट्रेड करने के लिए, आपके पास एक ब्रोकरेज अकाउंट और वित्तीय बाज़ारों में एसेट्स कैसे व्यवहार करते है, इसकी पर्याप्त जानकारी होने की आवश्यकता है। हमारी नि: शुल्क शैक्षिक सामग्री और FBS खाता बनाने के साथ मूल बातें का अध्ययन करना शुरू करें। आप डेमो अकाउंट से आभासी पैसे के साथ परिस्थिति का परीक्षण करना चाह सकते हैं। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो सफल होने के लिए वास्तविक बाज़ार में प्रवेश करें और ट्रेड करें।  

  • FBS अकाउंट कैसे खोलें?

    हमारी वेबसाइट पर 'अकाउंट खोलें’ बटन पर क्लिक करें और पर्सनल एरिया पर जाएं। इससे पहले कि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें, एक प्रोफाइल सत्यापन पास करें। अपने ईमेल और फोन नंबर की पुष्टि करें और अपनी आईडी सत्यापित करें। यह प्रक्रिया आपके धन और पहचान की सुरक्षा की गारंटी देती है। एक बार जब आप सभी जांच कर लेते हैं, तो पसंदीदा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं, और ट्रेडिंग शुरू करें। 

  • FBS के साथ कमाए हुए धन को कैसे निकालें?

    ये प्रक्रिया बहुत ही सरल है। वेबसाइट या FBS पर्सनल एरिया के वित्त अनुभाग में Withdrawal पेज पर जाएं  और रकम निकासी की प्रक्रिया को एक्सेस करें। आप कमाया हुआ धन उसी भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जिसे आपने जमा करने के लिए उपयोग किया था। यदि आपने विभिन्न तरीकों से अकाउंट को वित्त पोषित किया है, तो जमा रकम के अनुसार अनुपात में समान विधियों के माध्यम से अपना लाभ वापस लें।

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

और सीखें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा 00:30:00 में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera