कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स किया हैं?

कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स किया हैं?

2021-11-01 • अपडेट किया गया

CPI का मतलब किया हैं?

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक कीमतों में भारित औसत परिवर्तन को प्रकट करता है जो उपभोक्ता वस्तुओं और सेवाओं की एक बास्केट के लिए भुगतान करते हैं, जैसे कि भोजन, ऊर्जा, आवास, कपड़े, परिवहन, चिकित्सा देखभाल, मनोरंजन और शिक्षा। CPI में परिवर्तन का उपयोग जीवन यापन की लागत के मूल्य परिवर्तनों को नापने के लिए किया जाता है। जीवन यापन की लागत में बदलाव का एक सटीक माप विभिन्न व्यक्तियों और केंद्रीय बैंकों जैसे संगठनों के लिए आवश्यक है।

बास्केट ऑफ़ गुड्स किया हैं?

बास्केट ऑफ़ गुड्स उपभोक्ता उत्पादों और सेवाओं का एक निश्चित समूह है जिसकी कीमत का नियमित रूप से मूल्यांकन अक्सर मासिक या वार्षिक आधार पर किया जाता है। इस बास्केट को बनाने का उद्देश्य एक निश्चित बाजार या देश में मुद्रास्फीति को ट्रैक करना है। यदि बास्केट ऑफ़ गुड्स की कीमत एक वर्ष में 2% बढ़ती है, तो मुद्रास्फीति की दर को भी 2% कहा जा सकता है। बास्केट ऑफ़ गुड्स वह नमूना है जिसे अर्थव्यवस्था का प्रतिनिधित्व करना चाहिए, इसलिए कुछ वस्तुओं को समय समय पे उपभोक्ता की आदतों के हिसाब से दूसरों द्वारा बदल दिए जाता है।

*बास्केट ऑफ़ गुड्स में दूध और कॉफी जैसे बुनियादी भोजन और पेय पदार्थ होते हैं। इसमें आवास लागत, फर्नीचर, परिवहन शुल्क, स्वास्थ्य देखभाल लागत, खिलौने और यहां तक कि संग्रहालयों के टिकट भी शामिल हैं। शिक्षा और संचार बास्केट ऑफ़ गुड्स में सूचीबद्ध किया गया है यहाँ तक की जैसे तंबाकू, बाल कटाने और अंत्येष्टि को भी इस सूची में है।

CPI डाटा कहां खोजें?

ज़्यादातर मुद्रास्फीति का कारण उपभोक्ता मूल्य हैं, इसलिए आप हमारे आर्थिक कैलेंडर में CPI के बजाय मुद्रास्फीति दर शब्द प्रयोग किआ जाता हैं। लेकिन भ्रमित ना बनिए, वे दोनों एक ही डेटा दिखाते हैं।

रिपोर्ट के दो संस्करण हैं: मुद्रास्फीति दर और कोर मुद्रास्फीति दर। उनके बीच का अंतर साधारण है: भोजन और ऊर्जा की कीमतों की अस्थिरता के कारण इनकी कीमतों को मुख्य संकेतक में शामिल नहीं किया जाता है।

1.png

इसके अलावा, मुद्रास्फीति के अन्य संकेतक जैसे प्रोडूसर प्राइस इंडेक्स (PPI), होलसेल प्राइस इंडेक्स (WPI), रिटेल प्राइस इन्बैक्स (RPI) है। फिर भी, विदेशी मुद्रा व्यापार के मामले में CPI अधिक प्रभावशाली होता है।

CPI का उपयोग कैसे किया जाता है?

जैसा कि हम जानते है, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक मुद्रास्फीति का सबसे सामान्य मापक है। यह निश्चित अवधि में अर्थव्यवस्था में कीमतोंके बदलाव को जानने में सरकार, व्यवसायों और नागरिकों की मदद करता है। CPI के आधार पर ही, खुदरा विक्रेता भविष्य की कीमतों में वृद्धि की भविष्यवाणी करते हैं, नियोक्ता वेतन की गणना करते हैं और सरकार जीवन-यापन में वृद्धि को परिभाषित करती है।

जब मुद्रास्फीति बढ़ती है, तो क्रय शक्ति कम हो जाती है, जिसका अर्थ है कि उपभोक्ता प्रत्येक मुद्रा इकाई के लिए कम सामान और सेवाएं खरीद सकता है (उदहारण के लिए 1 डॉलर)। अन्यथा, जब मुद्रास्फीति गिरती है, क्रय शक्ति बढ़ जाती है, जिसका अर्थ है कि उपभोक्ता प्रत्येक मुद्रा इकाई के लिए अधिक सामान और सेवाएं खरीद सकता है।

व्यापारियों के लिए सबसे दिलचस्प बात यह है कि केंद्रीय बैंक कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स डाटा के आधार पर ही नीतिगत निर्णय लेते हैं। इस प्रकार, न केवल वास्तविक CPI डेटा बल्कि व्यापारियों का आपेक्षित CPI रिलीज भी विदेशी मुद्रा बाजार में अस्थिरता बढ़ा देती है।

  • बढ़ती कीमतें केंद्रीय बैंकों को ब्याज दरों में वृद्धि करने के लिए प्रेरित कर सकती हैं, जिसके परिणामस्वरूप राष्ट्रीय मुद्रा की बढ़त (increase in value) होगी।
  • वैकल्पिक रूप से, जब मुद्रास्फीति बहुत कम हो जाती है, तो केंद्रीय बैंक ब्याज दरों को कम कर सकता है, जो अनिवार्य रूप से घरेलू मुद्रा के मूल्यह्रास (decrease in value) की ओर ले जाएगा।

CPI फोरेक्स ट्रेडिंग को कैसे प्रभावित करता है?

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक जारी होने से विदेशी मुद्रा बाजार में भारी हलचल होती है। ध्यान देने वाली बात ये है कि यह केवल उन देशों को दर्शाता है जिसकी मुद्राएं लिक्विड हैं।

लिक्विडिटी के आधार पर, वैश्विक विदेशी मुद्रा व्यापार को तीन मुद्रा श्रेणियों में बांटा जा सकता हैं: मजोरस, माइनर करेंसी पेयर्स, और एक्सोटिक कर्रेंइस । प्रमुख मुद्राएं सबसे लोकप्रिय और लिक्विड हैं। प्रमुख मुद्राओं में अमेरिकी डॉलर, ब्रिटिश पाउंड, यूरो, जापानी येन, ऑस्ट्रेलियाई डॉलर और कैनेडियन डॉलर शामिल हैं। अतः हमे यूएस, यूके, कनाडा, ईयू, जापान, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के CPI रिलीज पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

CPI पर ट्रेड कैसे करें?

ट्रेडर वास्तविक CPI डेटा के साथ पूर्वानुमान की तुलना करते हैं, जो की इकनोमिक कैलेंडर में देखी जा सकती हैं।

  • यदि वास्तविक CPI डाटा अपेक्षा से अधिक है, तो मुद्रा में वृद्धि होगी।
  • लेकिन यदि वास्तविक CPI डाटा पूर्वानुमान से कम है, तो मुद्रा गिर जाएगी।

अतः अगली CPI रिलीज के समय पहले जांच कर लेना चाहिए, इसके लिए CPI जारी करने वाले देश की मुद्रा के चार्ट में प्राइस मूवमेंट की निगरानी करें।

शेयर बाजार का किया? क्या यह CPI से प्रभावित है?आमतौर पर स्टॉक मार्केट CPI नंबरों से ज्यादा संचालित नहीं होते हैं, लेकिन कभी-कभी वे हो भी सकते हैं! उच्च मुद्रास्फीति औरउसके कारण होने वाली उच्च ब्याज दरें आर्थिक गतिविधियों को धीमा करने के लिए बाध्य कर सकती हैं। इसलिए, एक सिद्धांत के रूप में, शेयर बाजार कम CPI का समर्थन करती है जो उपभोक्ताओं को व्यय करने देता है, और व्यवसाय में और अधिक निवेश होता हैं।

उदाहरण

मिसाल के तौर पर, ब्यूरो ऑफ़ लबोर के आंकड़े ने 13 जुलाई को अमेरिकी कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स (मुद्रास्फीति दर) का खुलासा किया। जिसमे CPI उम्मीद से ज्यादा निकली। नीचे आर्थिक कैलेंडर का स्क्रीनशॉट देखें।

2.png

परिणामस्वरूप, रिलीज़ होने के आधे घंटे में USD/JPY में 300 अंकों की तेजी से वृद्धि हुई! नीचे दिए गए चार्ट में, आप इस जबरजस्त हलचल को देख सकते हैं।

3.png

आइए समझते है जब कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स आपेक्षित विश्लेषकों से कम हो गया 28 जुलाई को, कनाडा का CPI (मुद्रास्फीति दर) अनुमान से कम निकला:CPI 0.3% बनाम बाजार अनुमान 0.4%।

4.png

रिलीज के बाद, CAD/JPY में 140 अंक की गिरावट आगई । ऐसा गिरावट केवल 30 मिनिट में! अतः, सीपीआई जैसे आर्थिक संकेतक चार्ट में भारी उतार-चढ़ाव का कारण बनते हैं। इसलिए, व्यापारियों को आर्थिक रिलीज का पालन करना चाहिए और इन घटनाओं के दौरान मूल्य के हलचल पर नज़र रखनी चाहिए ।

5.png

महंगाई की वर्तमान स्तिथि किया हैं?

CPI कभी-कभी किसी निश्चित वस्तु की कीमत में वृद्धि से प्रभावित हो सकता है। उदाहरण के लिए, तेल की कीमतों में वृद्धि से परिवहन, भोजन, उपयोगिताओं और खुदरा बिक्री प्रभावित हो सकती है। इस प्रकार की भारी वृद्धि एक डोमिनोज़ प्रभाव पैदा कर सकती है, जिससे निवेशक और व्यापारी विदेशी मुद्रा बाजार में अपनी रणनीति बदल सकते हैं।

यह वर्तमान स्थिति के तरह है। सितंबर 2021 में तेल और गैस की कीमतें तेजी से बढ़ी । इन वस्तुओं का उपयोग आवश्यक गतिविधियों जैसे ईंधन परिवहन और घरों को गर्म रखने में किया जाता है, जो सर्दियों के मौसम से पहले और भी महत्वपूर्ण है। इस तरह इन वस्तुओ की बढ़ती कीमतों से इन सभी गतिविधियों की लागत बढ़ जाती है और इस तरह मुद्रास्फीति बढ़ जाती है।

अगर हम अमेरिकी डॉलर (विदेशी मुद्रा बाजार में सबसे अधिक कारोबार वाली मुद्रा) के बारे बात करे तो उच्च अमेरिकी मुद्रास्फीति द्वारा फेडरल रिजर्व को नवंबर से इसे कम करने के लिए प्रेरित करना चाहिए और शुरुआत में पहले की तुलना में दर वृद्धि का संकेत देना चाहिए। निवेशक ऐसा होने की उम्मीद करते हैं और इस प्रकार अपनी पूंजी अमरीकी डालर में निवेश करते हैं। परिणामस्वरूप, USD एक साल के उच्च स्तर पर पहुंच गया!

अन्य केंद्रीय बैंक भी इन उच्च मुद्रास्फीति का अनुभव करने लगे। हालांकि, बैंक इससे निपटने की जल्दबाजी नहीं करते हैं। कोविड -19 संकट में देशों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण केंद्रीय बैंकों के लिए दरों में बढ़ोतरी या बांड खरीद को कम करना कठिन हो गया। देर-सबेर ये सभी दरें बढ़ाना शुरू कर देंगे, जिससे इन देशों की मुद्राएं ऊपर उठेंगी। इसलिए, वर्तमान CPI रिपोर्ट इन दिनों इतना ध्यान खींचती है!

महत्वपूर्ण आर्थिक रिपोर्ट कभी न चूकने के लिए हमारे समाचार का फ़ॉलो करें!

यदि आप मौलिक विश्लेषण में रुचि रखते हैं, तो हम आपको निम्नलिखित लेख पज़रूर पढ़े:

समान

फोरेक्स पेयर को-रिलेशन क्या है और इस पर ट्रेड कैसे करते है?
फोरेक्स पेयर को-रिलेशन क्या है और इस पर ट्रेड कैसे करते है?

प्रत्येक ट्रेडर को फोरेक्स बाजार में को-रिलेशन के बारे में पता होना चाहिए। इस लेख को पढ़ें और निर्णय लें कि आपको इसे अपनी ट्रेडिंग में इस्तेमाल करना है या इसे नजरअंदाज करना है।

बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  • FBS अकाउंट कैसे खोलें?

    हमारी वेबसाइट पर 'अकाउंट खोलें’ बटन पर क्लिक करें और पर्सनल एरिया पर जाएं। इससे पहले कि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें, एक प्रोफाइल सत्यापन पास करें। अपने ईमेल और फोन नंबर की पुष्टि करें और अपनी आईडी सत्यापित करें। यह प्रक्रिया आपके धन और पहचान की सुरक्षा की गारंटी देती है। एक बार जब आप सभी जांच कर लेते हैं, तो पसंदीदा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं, और ट्रेडिंग शुरू करें। 

  • FBS के साथ कमाए हुए धन को कैसे निकालें?

    ये प्रक्रिया बहुत ही सरल है। वेबसाइट या FBS पर्सनल एरिया के वित्त अनुभाग में Withdrawal पेज पर जाएं  और रकम निकासी की प्रक्रिया को एक्सेस करें। आप कमाया हुआ धन उसी भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जिसे आपने जमा करने के लिए उपयोग किया था। यदि आपने विभिन्न तरीकों से अकाउंट को वित्त पोषित किया है, तो जमा रकम के अनुसार अनुपात में समान विधियों के माध्यम से अपना लाभ वापस लें।

  • ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

    यदि आप 18 वर्ष से ऊपर के हैं, तो आप FBS में शामिल हो कर अपनी FX यात्रा शुरू कर सकते हैं। ट्रेड करने के लिए, आपके पास एक ब्रोकरेज अकाउंट और वित्तीय बाज़ारों में एसेट्स कैसे व्यवहार करते है, इसकी पर्याप्त जानकारी होने की आवश्यकता है। हमारी नि: शुल्क शैक्षिक सामग्री और FBS खाता बनाने के साथ मूल बातें का अध्ययन करना शुरू करें। आप डेमो अकाउंट से आभासी पैसे के साथ परिस्थिति का परीक्षण करना चाह सकते हैं। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो सफल होने के लिए वास्तविक बाज़ार में प्रवेश करें और ट्रेड करें।  

  • लेवल अप बोनस को कैसे सक्रिय करें?

    FBS पर्सनल एरिया के वेब या मोबाइल संस्कारण में जाकर लेवल अप बोनस खाता खोलें और अपने खाते में मुफ्त 140$ पाएँ।

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

अपने खेल में शीर्ष पर रहें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera