1. FBS ब्रोकर >
  2. ब्लॉग >
  3. जॉर्ज सोरोस - एक अरबपति जो पैसे से नहीं बिगड़ा
2020-04-03 • अपडेट किया गया

जॉर्ज सोरोस - एक अरबपति जो पैसे से नहीं बिगड़ा

1.png

फोर्ब्स के अनुसार निवेशक, लोकोपकारक, सामाजिक कार्यकर्ता, लेखक, दुनिया के 56वें सबसे अमीर व्यक्ति और निश्चित रूप से किंवदंती । हाँ, आप जानते हैं की हम किसके बारे में बात कर रहे हैं । इन सभी खिताब अमेरिकी फाइनेंसर जॉर्ज सोरोस को दिए गए थे, या यह कहना बेहतर होगा कि उनके जीवन के 89 वर्षों के लिए यह आइकन इसके हकदार थे । आपको जो पास हो उन्हें वैसे बुलाएँ, लेकिन महत्वपूर्ण बात यह है कि वह एक ऐसा व्यक्ति है, जिस पर लोगों ने दशकों से चर्चा की है । खासकर उस रात के बाद जब उन्होंने एक अरब कमाया । हाँ, लोग इस संख्या को लिखते समय शून्य की गिनती खो सकते हैं ।

सोरोस ने ऐसा कैसे कर पाए? उन्होंने और क्या किया और क्या हासिल किया? और क्यों दुनिया भर के लोग और ख़ास तौर से, FX समुदाय, इस आदमी को निहारते रहते हैं? आज, हम विश्व प्रसिद्ध और शायद अब तक के सबसे उदार ट्रेडर की कहानी को याद करते हैं ।

उज्ज्वल बच्चा, अंधकारमय जीवन

2.png

शुरूआत में, सोरोस के मामले को "ज़ीरो-से-हीरो-तक" जैसी कहानी नहीं होना चाहिए था । 1930 में ग्योर्गी श्वार्ट्ज के नाम से जन्मे, वह उच्च-मध्यम वर्गीय यहूदी परिवार से आते हैं जो बुडापेस्ट में रहता था और जिसने अपने महत्वाकांक्षी बेटे को एक समृद्ध भविष्य प्रदान किया होगा । हालांकि, उनकी जड़ों और जिस समय में वह बड़े हो रही थे, उस पर विचार करते हुए, कुछ "अगर केवल" को हस्तक्षेप करने की आवश्यकता थी । इसलिए, युद्ध ग्योर्गी के जीवन में सुधार लेकर आया ।

यहूदी-विरोधी अभियोजन और पकड़े जाने और मारे जाने के लगातार डर से बचने के लिए कोई और उपनाम रखना, फ़र्जी दस्तावेज़, परिवार का छिपने और अलग होना... इन भयानक परिस्थितियों में भी, सोरोस के रिश्तेदार उन लोगों की मदद करने में कामयाब रहे जो ऐसी ही भयानक घटनाओं का सामना कर रहे थे । सौभाग्य से, परिवार बच गया, और 17 साल की उम्र में, सोरोस जिनका उद्देश्य अध्ययन और दार्शनिक बनना था, इंग्लैंड में आकार रहने लगे ।

लंदन सलाद के दिन — मीठा और कड़वा दोनों

3.png

अनुमान लगाइए कि जॉर्ज सोरोस ने किस लंदन विश्वविद्यालय में प्रवेश किया? आप में से कुछ एक कम रैंक वाले विश्वविद्यालय के बारे में सोच सकते हैं जो कि युद्ध के दौरान भारी अभाव का अनुभव करने वाला यहूदी लड़का अफ़ॉर्ड कर सकता था । दूसरों को अभी तक शायद यह पता करने में भी मुश्किल हो कि वह अपने जीवन को सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत करने के बजाय अध्ययन कैसे कर सकता है । पहले, इसके बजाय क्यों? वह अपनी पढ़ाई का समर्थन करने के लिए एक वेटर और एक रेलवे कुली के रूप में अंशकालिक काम कर रहा था । दूसरा, जिस विश्वविद्यालय में उन्होंने दाखिला लिया, वह लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (LSE) था ।

बुरा नहीं है, हाँ? इसलिए, अपने अंकल के साथ रहकर सोरोस प्रसिद्ध दार्शनिक कार्ल पॉपर के तहत इंग्लैंड के सबसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में से एक में अध्ययन कर रहे थे । महान शिक्षक जो उनके अपने विचारों के करीब थे, उनके विचारों का उपभोग करते हुए, सोरोस ने आख़िर में महसूस किया कि उन्हें अर्थशास्त्र में अधिक रुचि थी । मर्चेंट बैंक सिंगर और फ्रीडलैंडर में काम करने के दो साल के अनुभव और LSE में बैचलर और मास्टर दोनों कार्यक्रमों को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद, 26 साल का ग्रेजुएट न्यूयॉर्क चला गया । और वहाँ शुरुआत हुई एक्साइटिंग अड्वेंचर की ।

अंग्रेज़ी...ओह, माफ़ कीजिए, न्यू यॉर्क में यहूदी आदमी

4.png

अमेरिका में, सोरोस ने एक मध्यस्थ ट्रेडर के रूप में शुरुआत की और उस समय लोकप्रियता हासिल कर रहे यूरोपीय स्टॉक्स में उनकी विशेषज्ञता थी । फिर, उन्होंने दर्शनशास्त्र का अध्ययन ना छोड़ते हुए और पॉपर की विचारधारा में निहित विचारों को विकसित करते हुए एक ट्रेडर और विश्लेषक के रूप में कई वॉल स्ट्रीट फर्मों में काम किया । 37 की उम्र में, उन्होंने ट्रेडिंग रणनीतियों को आज़माते हुए अपना पहला ऑफशोर फंड, पहला ईगल फंड प्रबंधित किया । प्रयोग सफल रहा, और दूसरा हेज फंड — द डबल ईगल — दो साल बाद बनाया गया । 1973 में, इसमें निवेशकों का 12 मिलियन डॉलर पैसा था । लेकिन सोरोस और उनके सहायक जिम रोजर्स ने इसे छोड़कर सोरोस फंड स्थापित करने का फैसला किया जिसका नाम बाद में बदल कर क्वांटम फंड रखा गया । नौ वर्षों में, यह $381 मिलियन तक बढ़ गया था ।

अपनी व्यापारिक गतिविधि के अलावा, सोरोस परोपकार करने में लग गए । वह इतने अमीर और लालची व्यक्ति नहीं थे जिसकी किसी के भी सफल होने पर संभावना होती है — उनकी सम्पत्ति का एक अच्छा हिस्सा अन्य लोगों की मदद करने में निवेश किया गया है । इस प्रकार, 54 साल की उम्र में, उन्होंने विकासशील शिक्षा, सार्वजनिक स्वास्थ्य, व्यवसाय से संबंधित वैश्विक पहलों और दुनिया भर में बोलने, समानता और न्याय की स्वतंत्रता का समर्थन करने के लिए ओपन सोसाइटी फ़ाउंडेशन की स्थापना की । युद्ध और अभियोजन से बचने का एक अच्छा प्रभाव, हाँ?

गौरव का दिन

5.png

इतनी मात्रा में दूसरों को वित्त देने के लिए, जमीन पर पैर होने चाहिएँ । खैर, सोरोस इसमें बहुत सफल रहे हैं । उनके निवेश फंडों ने वार्षिक औसत रिटर्न का एक बड़ा प्रतिशत उत्पन्न किया (एक बार, यह 122% तक पहुंच गया था!) । लेकिन एक दिन था जो ख़ास तौर से सोरोस के लिए लाभदायक था । 1992 में उन्होंने ब्रिटिश मुद्रा के खिलाफ ब्रिटेन के मुद्रा संकट पर दांव खेला और एक रात में उन्हें एक अरब का लाभ हुआ । उसी क्षण उन्होंने ना केवल पैसा कमाया, बल्कि उस शख्स की पदवी भी प्राप्त की, जिसने बैंक ऑफ इंग्लैंड को तोड़ा, कई अर्थशास्त्रियों और शीर्ष राजनीति का सम्मान प्राप्त किया, जिसमें देशों के नेता भी शामिल थे, और यहां तक ​​कि दुनियावी अखाड़े में आर्थिक और राजनीतिक घटनाओं को प्रभावित करने की शक्ति भी प्राप्त की । 1994 में जापानी येन के मूल्य पर गलत दांव पर पैसा खोने या फ्रांसीसी बैंक सोसाइटी जनरेल के शेयरों पर अंदरूनी ट्रेडिंग के लिए जुर्माना लगाए जाने जैसी बड़ी असफलता से भी यह उपलब्धि गायब नहीं हुई है ।

वह सितारा जो अभी भी चमक रहा है

6.png

नई रणनीतियाँ आज़माते हुए, बाज़ार की कई गतिविधियों और 2008 के संकट पर अटकलें लगाते हुए, सोरोस ने फ़रवरी 2020 तक $8.3 बिलियन की शुद्ध कमाई की है । 1969 से 2009 तक लगभग चालीस वर्षों की अवधि के लिए, उन्होंने अपने निवेश को 26.3% की दर से चक्रवृद्धि किया, जो वॉरेन बफेट के समान अवधि के रिटर्न (21.4%) से अधिक है ।

अब, वह सोरोस फंड मैनेजमेंट LLC के अध्यक्ष बने हुए हैं जो निवेशकों के पैसे को वापस करने के बाद निजी स्वामित्व वाला पारिवारिक कार्यालय बन गया है । इसके अलावा, सोरोस ओपन सोसाइटी फ़ाउंडेशन के लिए पैसा दान करते रहते हैं जो 100 से अधिक देशों में कार्यक्रम शुरू करता है, जिसमें 37 क्षेत्रीय कार्यालय हैं । वह प्रमुख सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक घटनाओं से अवगत रहते हैं और इंटर्व्यू और ट्विटर के द्वारा अपने विचार और राय (89 वर्ष की आयु में) व्यक्त करते रहते हैं । उनकी कई किताबें अभी भी दुनिया भर में बेची जा रही हैं, साथ ही उनकी जीवनी पर भी ।

सोरोस के जीवन का वर्णन करने के लिए हमारे पास इतनी जगह नहीं है । लेकिन उम्मीद है, हमारे उदारवादी लेख आपको यह समझने देंगे कि यह कहानी इतनी उल्लेखनीय और शिक्षाप्रद क्यों रही है । सभी स्थितियों के प्रतिकूल होने पर भी ट्रेडिंग में सफलता प्राप्त करना हमेशा संभव होता है ।

  • 191
और सीखें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा 00:30:00 में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera