Hyperinflation

उच्च मुद्रास्फीति

उच्च मुद्रास्फीति क्या है?

उच्चमुद्रास्फीति बहुत अधिक मुद्रास्फीति है। यह अर्थव्यवस्था की कीमतों में तीव्र, अत्यधिक और अनियंत्रित सामान्य वृद्धि को संदर्भित करता है। जबकि मुद्रास्फीति उस दर को मापती है जिस पर वस्तुओं और सेवाओं की कीमतें बढ़ती हैं, वही दूसरी तरफ उच्चमुद्रास्फीति तेजी से बढ़ती मुद्रास्फीति है जो आम तौर पर प्रति माह 50% से अधिक हो जाती है।

जबकि एडवांस अर्थव्यवस्थाओं में उच्चमुद्रास्फीति दुर्लभ है, यह पूरे इतिहास में चीन, जर्मनी, रूस, हंगरी और अर्जेंटीना में कई बार हुआ है।

सेंट्रल बैंक द्वारा अत्यधिक धन की प्रिंटिंग के साथ युद्ध के समय और मेनस्ट्रीम में आर्थिक उथल-पुथल के निर्माण दौरान उच्च मुद्रास्फीति हो सकता है।

उच्च मुद्रास्फीति को समझना

उच्चमुद्रास्फीति उस समय होती है जब एक निश्चित अवधि के दौरान एक महीने में कीमतों में 50% से अधिक की वृद्धि होती है। तुलना करने के लिए, US ब्यूरो ऑफ लेबर स्टैटिस्टिक्स के अनुसार, रिकमंड लेवल प्रति वर्ष लगभग 2% है, जिसे CPI (कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स) द्वारा मापा जाता है। CPI केवल वस्तुओं और सेवाओं की एक चयनित बास्केट के लिए मूल्य सूचकांक है। उच्च मुद्रास्फीति की वजह से उपभोक्ताओं और व्यवसायों को उच्च कीमतों के कारण किराने का सामान खरीदने के लिए ज्यादा धन की आवश्यकता होती है।

जबकि बढ़ती कीमतें सामान्य मुद्रास्फीति को मापती हैं, उच्च मुद्रास्फीति को एक्स्पोनेन्शियल डेली ग्रोथ द्वारा मापा जाता है जो 5-10% प्रति दिन हो सकती है। उच्चमुद्रास्फीति तब होती है जब एक महीने के भीतर दर 50% से अधिक हो जाती है।

कल्पना कीजिए कि भोजन की लागत $500 प्रति सप्ताह है जो कि अगले महीने $750 प्रति सप्ताह होगी इससे अगले महीने ये $1125 प्रति सप्ताह हो जाएगी आदि। यदि वेजेस अर्थव्यवस्था में मुद्रास्फीति के साथ तालमेल नहीं रखता है, तो लोगों का जीवन स्तर गिर जाता है क्योंकि वे अपनी बुनियादी जरूरतों और रहने के लिए होने वाले खर्च का भुगतान नहीं कर सकते हैं।

उच्चमुद्रास्फीति अर्थव्यवस्था के लिए कुछ परिणाम पैदा कर सकता है। बढ़ती कीमतों की वजह से लोग सामान जमा कर रहे हैं, इनमे शामिल हैं भोजन जैसे खराब होने वाले सामान, जो बदले में भोजन की कमी का कारण बन सकते हैं। जब कीमतें बढ़ती हैं, तो बैंकों में रखा नकद या सेविंग का मूल्य गिर जाता है या बेकार हो जाता है क्योंकि पैसे की क्रय शक्ति बहुत कम होती है। उपभोक्ताओं की वित्तीय स्थिति बन सकती है उनके दिवालिया होने का कारण।

इसके अलावा, लोग वित्तीय संस्थानों में अपने धन का निवेश करना बंद कर देते हैं, इसलिए प्रमुख बैंक और ऋणदाता दिवालिया हो जाएंगे। टैक्स को रिसीव करने वाले भी गिर सकते हैं। टैक्स प्राप्तकर्ताओं में भी गिरावट आ सकती हैं।

उच्च मुद्रास्फीति के उदाहरण

उच्च मुद्रास्फीति का सबसे हालिया उदाहरण है वेनेजुएला का आर्थिक संकट जिसकी शुरुआत 2013 में हुई थी और आज भी जारी है। 2018 में मुद्रास्फीति 1,700,000% थी, GDP में 15% की गिरावट आई, 30 लाख से भी ज्यादा लोगों ने देश छोड़ा। करप्शन परसेप्शन इंडेक्स में वेनेजुएला 169वें (कुल 180 में से) स्थान पर है, यहाँ की लगभग 30% आबादी के पास कोई नौकरी नहीं है। अभी, मार्च 2022 में, मुद्रास्फीति है 2,000%। दुनिया के सबसे बड़े तेल उत्पादकों में से एक, देश अपनी बुनियादी आवश्यकताओं, जैसे कि भोजन, दवा और गैसोलीन के संबंध में भारी कमी का सामना कर रहा है मंहगाई कम होने और स्थिति में सुधार होने के बावजूद इस दक्षिण अमेरिकी देश में कई परिवारों को गुजारा करने के लिए संघर्ष करना पड़ हैं।

उच्च मुद्रास्फीति क्यों होती है

उच्च मुद्रास्फीति के दो मुख्य कारण हैं: मुद्रा आपूर्ति में वृद्धि और डिमांड-पुल मुद्रास्फीति। पहला वाला उस समय होता है जब किसी देश की सरकार अपने खर्चों का भुगतान करने के लिए पैसे प्रिन्ट करना शुरू करती है। जैसे-जैसे मुद्रा की आपूर्ति बढ़ती है, कीमतें सामान्य मुद्रास्फीति की तरह ही बढ़ती हैं।

एक अन्य कारण है, डिमांड-पुल मुद्रास्फीति, यह तब होती है जब मांग में वृद्धि आपूर्ति से अधिक हो जाती है, जिससे कीमतों में वृद्धि होती है। यह बढ़ती अर्थव्यवस्था की वजह से हुई उपभोक्ता खर्च में वृद्धि, निर्यात में अचानक वृद्धि या सरकारी खर्च में वृद्धि के कारण हो सकता है।

अक्सर दोनों कारण एक साथ चलते हैं। मुद्रास्फीति को रोकने के लिए मुद्रा आपूर्ति में कटौती की बजाय, सेंट्रल बैंक ज्यादा धन छापना जारी रख सकता है। जब बहुत अधिक राष्ट्रीय मुद्रा प्रसारित होने लगती है, तो कीमतें आसमान छूने लगती हैं। एक बार जब उपभोक्ताओं को यह पता चल जाता है कि क्या हो रहा है, तो वे मुद्रास्फीति जारी रहने की उम्मीद करते हैं। वे इस समय और ज्यादा खरीदारी करते हैं ताकि बाद में उन्हें अधिक कीमत न चुकानी पड़े। यह अतिरिक्त मांग मुद्रास्फीति को बढ़ाती है। और भी बुरा होगा यदि उपभोक्ताओ के सामान जमा करने के कारण कमी आती हैं।

उच्च मुद्रास्फीति के प्रभाव

उच्च मुद्रास्फीति तेजी से विदेशी मुद्रा बाजारों में स्थानीय मुद्रा का अवमूल्यन करता है क्योंकि अन्य मुद्राओं के मुकाबले इसका सापेक्ष मूल्य गिर जाता है। यह स्थिति राष्ट्रीय मुद्रा के धारकों को उनकी बचत में कमी लाने और ज्यादा स्थिर विदेशी मुद्राओं पर स्विच करने के लिए मजबूर करेगी।

कल उच्च मुद्रास्फीति के कारण ज्यादा कीमतों का भुगतान ना करना पड़े, इसलिए लोग आमतौर पर टिकाऊ वस्तुए जैसे कि उपकरण, कार, गहने आदि में निवेश करना शुरू कर देते हैं। जब उच्च मुद्रास्फीति विकसित होती है, तो लोग उन सामानों को भी जमा करना शुरू कर देते हैं जो खराब होने वाले हैं।

हालांकि, यह प्रथा एक दुष्चक्र पैदा करती है: जैसे-जैसे कीमतें बढ़ती हैं, लोग अधिक माल जमा करते हैं, जिससे माल की मांग अधिक हो जाती है और कीमते और ज्यादा बढ़ जाती है। यदि उच्च मुद्रास्फीति बिना किसी रुकावट के जारी रहती है, तो आमतौर पर यह एक बड़े आर्थिक पतन की ओर ले जाता है।

गंभीर उच्च मुद्रास्फीति घरेलू अर्थव्यवस्था के एक वस्तु विनिमय अर्थव्यवस्था में संक्रमण का कारण बन सकती है, जो व्यापार समुदाय के आत्म विश्वास को गंभीर रूप से प्रभावित करेगी। इतना ही नाहि यह वित्तीय प्रणाली को भी नष्ट कर सकता है क्योंकि बैंक ऋण देना बंद कर देते हैं।

पीछे

2022-04-05 • अपडेट किया गया

बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  • FBS अकाउंट कैसे खोलें?

    हमारी वेबसाइट पर 'अकाउंट खोलें’ बटन पर क्लिक करें और पर्सनल एरिया पर जाएं। इससे पहले कि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें, एक प्रोफाइल सत्यापन पास करें। अपने ईमेल और फोन नंबर की पुष्टि करें और अपनी आईडी सत्यापित करें। यह प्रक्रिया आपके धन और पहचान की सुरक्षा की गारंटी देती है। एक बार जब आप सभी जांच कर लेते हैं, तो पसंदीदा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं, और ट्रेडिंग शुरू करें। 

  • FBS के साथ कमाए हुए धन को कैसे निकालें?

    ये प्रक्रिया बहुत ही सरल है। वेबसाइट या FBS पर्सनल एरिया के वित्त अनुभाग में Withdrawal पेज पर जाएं  और रकम निकासी की प्रक्रिया को एक्सेस करें। आप कमाया हुआ धन उसी भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जिसे आपने जमा करने के लिए उपयोग किया था। यदि आपने विभिन्न तरीकों से अकाउंट को वित्त पोषित किया है, तो जमा रकम के अनुसार अनुपात में समान विधियों के माध्यम से अपना लाभ वापस लें।

  • ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

    यदि आप 18 वर्ष से ऊपर के हैं, तो आप FBS में शामिल हो कर अपनी FX यात्रा शुरू कर सकते हैं। ट्रेड करने के लिए, आपके पास एक ब्रोकरेज अकाउंट और वित्तीय बाज़ारों में एसेट्स कैसे व्यवहार करते है, इसकी पर्याप्त जानकारी होने की आवश्यकता है। हमारी नि: शुल्क शैक्षिक सामग्री और FBS खाता बनाने के साथ मूल बातें का अध्ययन करना शुरू करें। आप डेमो अकाउंट से आभासी पैसे के साथ परिस्थिति का परीक्षण करना चाह सकते हैं। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो सफल होने के लिए वास्तविक बाज़ार में प्रवेश करें और ट्रेड करें।  

  • लेवल अप बोनस को कैसे सक्रिय करें?

    FBS पर्सनल एरिया के वेब या मोबाइल संस्कारण में जाकर लेवल अप बोनस खाता खोलें और अपने खाते में मुफ्त 140$ पाएँ।

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

अपने खेल में शीर्ष पर रहें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक व्यापार की दुनिया में आपका मार्गदर्शन करेगी।

शुरुआत फॉरेक्स पुस्तक

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें
अपना ई-मेल दर्ज करें, और हम आपको एक निशुल्क शुरुआती फॉरेक्स पुस्तक भेजेंगे

धन्यवाद!

हमने आपके ई-मेल पर एक विशेष लिंक ईमेल किया है।
अपने पते की पुष्टि के लिए लिंक पर क्लिक करें और शुरुआत के लिए शुरुआती फॉरेक्स बुक प्राप्त करें।

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera