मात्रात्मक सहजता नीति क्या है? यह मुद्रा को कैसे प्रभावित करता है?

क्वॉंटिटेटिव ईजिंग (QE) क्या है?

आप जानते हैं कि कीमत स्थिरता को बनाए रखने में मुख्य भूमिका केंद्रीय बैंक निभाते हैं। केंद्रीय बैंक सरकार से स्वतंत्र रहकर अपना संचालन करते हैं। मूल्य स्थिरता बनाए रखने के लिए, बैंक को मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने और एक स्थिर आर्थिक वातावरण पैदा करने की ज़रूरत होती है। इन उपायों को मौद्रिक नीति के माध्यम से लागू किया जा सकता है।

मौद्रिक नीति के दो प्रकार होते हैं: प्रतिबंधक (तंग, संकुचित) और समायोजक (ढीला, विस्तारशील)। पहला वाला तब लागू किया जाता है जब अर्थव्यवस्था में धन की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है, इसलिए मुद्रा की आपूर्ति कम करने और मुद्रास्फीति के निम्न स्तर को प्रोत्साहित करने के लिए बैंक ब्याज दर बढ़ाता है। दूसरी ओर, उदार नीति का उपयोग GDP विकास धीमा होने पर किया जाता है। उस स्थिति में, एक केंद्रीय बैंक मुद्रा आपूर्ति बढ़ाता है और ब्याज दर घटाता है। कम ब्याज दरें निवेशकों को आकर्षित करती हैं और उनका उद्देश्य अर्थव्यवस्था में ज़्यादा नकदी प्रवाह उत्पन्न करना होता है। जब दर कम होकर व्यावहारिक रूप से 0% हो जाती है और एक केंद्रीय बैंक अभी भी अधिक सहायक उपायों के बारे में सोचता है, तो यह क्वॉंटिटेटिव इज़िंग लागू करता है।

पहले, एक बैंक इलेक्ट्रॉनिक पैसा बनाता है या, जैसा कि आपने सुना होगा, प्रिंट मनी हालांकि कोई नकद राशि नहीं बनाई जाती है।

दूसरे चरण में, यह विभिन्न इक्विटी खरीदता है। क्वॉंटिटेटिव इज़िंग के एक क्लासिक रूप में सरकारी बॉंड खरीदना शामिल है, जिसे केंद्रीय बैंक द्वारा ट्रेज़री के रूप में भी जाना जाता है। बॉंड के धारकों को नकद प्राप्त होता है और बैंक बॉंड को परिसंपत्तियों के रूप में बैलेंस शीट में जोड़ता है। लेकिन, ट्रेज़री इक्विटी का एकमात्र रूप नहीं है जिसे एक केंद्रीय बैंक खरीद सकता है। उदाहरण के लिए, यूरोपीय केंद्रीय बैंक निजी क्षेत्र में बॉंड खरीदता है। फेड, अपनी बारी में, बंधक समर्थित ऋण उत्पादों को खरीदने के लिए उपयोग किया जाता था।

ध्यान रखें, केंद्रीय बैंक सरकार से सीधा बोण्ड्स नहीं खरीदता| उस मामले को ऋण मुद्रीकरण (मौद्रिक वित्तपोषण) के रूप में जाना जाता है और यह बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के लिए मौद्रिक नीति में अवैध माना जाता है। अन्यथा, केंद्रीय बैंक बड़े निवेशकों से, जैसे कि बैंक या निवेश फंड से बॉन्ड या ऋण खरीदते हैं।

जब पैसा अर्थव्यवस्था में इंजेक्ट किया जाता है, यह वित्तीय प्रणाली में उपयोग योग्य धन की संख्या बढ़ाता है। बुनियादी आर्थिक कानून का पालन करते हुए, इस तरह के धन का प्रवाह सस्ते पैसे की आपूर्ति उत्पन्न करता है, इस प्रकार, वाणिज्यिक बैंक और अन्य वित्तीय संस्थान व्यवसायों और उपभोक्ताओं को ज़्यादा उधार लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ब्याज दरों को कम करते हैं। अगर उपभोक्ता और निवेशक ज़्यादा खर्च करते हैं, तो यह रोज़गार और मुद्रास्फीति के स्तर को बढ़ाता है। इसलिए, यह अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देता है।

जब एक केंद्रीय बैंक नए बॉन्ड खरीदना बंद कर देता है, तो यह अपनी बैलेंस शीट में मौजूद वालों को पकड़ के रखता है। अगर ये बॉंड परिपक्व होते हैं (अधिकांश बॉंड्ज़ की परिपक्वता तिथि होती है, जब शुरुआती निवेश को बॉन्ड के मालिक को चुका दिया जाता है), तो उन्हें नए वालों से प्रतिस्थापित किया जाता है। इसके अलावा, एक बैंक या तो बोण्ड्स को बिना प्रतिस्थापन के परिपक्व होने दे सकता है या उन्हें बाजार में बेच सकता है।

 central bank

QE करेंसी को कैसे प्रभावित करती है?

जब केंद्रीय बैंक धन की आपूर्ति बढ़ाता है, मुद्रा की कीमत और खरीद शक्ति तब तक गिरती जब तक और देश क्वॉंटिटेटिव इज़िंग की नीति प्रयोग मे नहीं लाते।

QE इतना जोखिम भरा क्यों है?

अनेक कारणवश इस नीति को विश्लेषकों द्वारा जोखिम भरा माना जाता है:

  • यह हाइ मुद्रास्फीति और बबल उत्पन्न कर सकते हैं। कई विशेषज्ञों को यकीन है कि QE मुद्रास्फीति को काफी उच्च स्तर तक पहुंचा सकती।
  • कई विश्लेषक इसकी अप्रभावीता के लिए इसकी आलोचना करते। वे लोग यह सुझाव देते कि अर्थववस्त्था को पोन्र्जिवित करने के लिए सबसे बहतरहीन समाधान राजकोषीय नीति (सरकारी खर्च और कर कटौती) है।
  • अंत में, कई विशेषज्ञों का कहना है QE सिर्फ एक तरीका है जिससे सरकार एवं औरवाणिज्यिक बैंक अपनी समस्याएँ छुपाते हैं और उनका हल निकालने कि ज़िम्मेदारी केंद्रीए बैंक पर दाल देते हैं|

क्वॉंटिटेटिव इज़िंग इन प्रैक्टिस

बैंक ऑफ जापान (BOJ) ने 2001 में QE को लागू करना शुरू कर दिया था। उस समय, अर्थव्यवस्था को स्थिरता और मुद्रास्फीति मे बढ़त का सामना करना पड़ा था। वर्तमान मे जापानी अर्थव्यवस्था के स्वस्था होने के कारणवश, BOJ ने इस कार्यक्रम से बाहर निकलने के कुछ संकेत दिए हैं।

बैंक ऑफ इंग्लैंड और फेडरल रिजर्व ने 2008 के संकट के दौरान क्वॉंटिटेटिव इज़िंग को प्रयोग मे लाया था। QE ने संयुक्त राज्य अमेरिका में मॉर्गिज दरों को कम किया, मुद्रास्फीति को स्थिर किया और रोज़गार की स्थिति में सुधार लाया। दूसरी तरफ, इसने अमेरिकी डॉलर का मूल्य घाटा दिया|

यूरोपीय सेंट्रल बैंक जनवरी 2015 में क्वॉंटिटेटिव इज़िंग का कार्यकर्म शुरू किया | धीमी आर्थिक विकास के बावजूद बैंक ने 2018 के अंत में इस पॉलिसी पर रोक लगाने का फैसला लिया।

निष्कर्ष

क्वॉंटिटेटिव इज़िंग योजना मे कई गुण और दोष हैं। एक तरफ से, यह निश्चित रूप से एक रुकी हुई अर्थव्यवस्था को समर्थन देता है। दूसरी तरफ़, मुद्रा अवमूल्यन और बबल्ज़ बनने का जोखिम होता है। फिर भी, नीति का प्रभाव अनिश्चितताओं के समय में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा दे सकता है।

2022-06-06 • अपडेट किया गया

Other articles in this section

बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  • FBS के साथ कमाए हुए धन को कैसे निकालें?

    ये प्रक्रिया बहुत ही सरल है। वेबसाइट या FBS पर्सनल एरिया के वित्त अनुभाग में Withdrawal पेज पर जाएं  और रकम निकासी की प्रक्रिया को एक्सेस करें। आप कमाया हुआ धन उसी भुगतान प्रणाली के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जिसे आपने जमा करने के लिए उपयोग किया था। यदि आपने विभिन्न तरीकों से अकाउंट को वित्त पोषित किया है, तो जमा रकम के अनुसार अनुपात में समान विधियों के माध्यम से अपना लाभ वापस लें।

  • FBS अकाउंट कैसे खोलें?

    हमारी वेबसाइट पर 'अकाउंट खोलें’ बटन पर क्लिक करें और पर्सनल एरिया पर जाएं। इससे पहले कि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें, एक प्रोफाइल सत्यापन पास करें। अपने ईमेल और फोन नंबर की पुष्टि करें और अपनी आईडी सत्यापित करें। यह प्रक्रिया आपके धन और पहचान की सुरक्षा की गारंटी देती है। एक बार जब आप सभी जांच कर लेते हैं, तो पसंदीदा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं, और ट्रेडिंग शुरू करें। 

  • ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

    यदि आप 18 वर्ष से ऊपर के हैं, तो आप FBS में शामिल हो कर अपनी FX यात्रा शुरू कर सकते हैं। ट्रेड करने के लिए, आपके पास एक ब्रोकरेज अकाउंट और वित्तीय बाज़ारों में एसेट्स कैसे व्यवहार करते है, इसकी पर्याप्त जानकारी होने की आवश्यकता है। हमारी नि: शुल्क शैक्षिक सामग्री और FBS खाता बनाने के साथ मूल बातें का अध्ययन करना शुरू करें। आप डेमो अकाउंट से आभासी पैसे के साथ परिस्थिति का परीक्षण करना चाह सकते हैं। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो सफल होने के लिए वास्तविक बाज़ार में प्रवेश करें और ट्रेड करें।  

  • लेवल अप बोनस को कैसे सक्रिय करें?

    FBS पर्सनल एरिया के वेब या मोबाइल संस्कारण में जाकर लेवल अप बोनस खाता खोलें और अपने खाते में मुफ्त 140$ पाएँ।

ताज़ा खबर

ऑस्ट्रेलियाई बेरोजगारी दर में नया क्या है?

ऑस्ट्रेलियन ब्यूरो ऑफ़ स्टैटिस्टिक्स गुरुवार, 19 मई को 04:30 MT पर अद्यतन बेरोजगारी दर और रोजगार परिवर्तन डेटा की घोषणा करेगा।

क्या UK CPI आश्चर्यचकित कर सकता है?

UK ऑफिस फॉर नेशनल स्टैटिस्टिक्स बुधवार, 18 मई को 09:00 MT के पर कंस्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI) डेटा पब्लिश करेगा।

US रिटेल सेल्स अपडेट

अमेरिकी जनगणना ब्यूरो मंगलवार, 17 मई को 15:30 MT पर कोर खुदरा बिक्री और खुदरा बिक्री की घोषणा करेगा।

अपने स्थानीय भुगतान प्रणालियों के साथ जमा करें

टीम भावना अनुभव करें

डेटा संग्रह नोटिस

FBS इस वेबसाइट को चलाने के लिए आपके डेटा का रिकॉर्ड रखता है। "स्वीकार करें" बटन दबाकर, आप हमारीगोपनीयता नीति से सहमत होते हैं।

हमे फेसबुक पर फॉलो करें

कॉलबैक

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

नंबर बदलें

आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है|

शीघ्र ही एक प्रबंधक आपको कॉल करेगा।

इस फ़ोन नम्बर के लिए कॉलबैक का अगला अनुरोध
उपलब्ध होगा में

यदि आपके पास कोई ज़रूरी मुद्दा है तो कृपया हमसे संपर्क करें
लाइव चैट के माध्यम से

आंतरिक त्रुटि। कृपया बाद में पुन: प्रयास करें

अपना समय बर्बाद ना करें - इस बात का ध्यान रखें कि NFP अमेरिकी डॉलर और लाभ को कैसे प्रभावित करता है!

आप अपने ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं।

इसे नवीनतम संस्करण में अपडेट करें या सुरक्षित, अधिक आरामदायक और उत्पादक व्यापारिक अनुभव के लिए कोई और संस्करण प्रयास करें।

Safari Chrome Firefox Opera